Sunday, 17 September 2017

रोहिंग्या मुसलमानो को बाहर न किया तो जल्द ये भारत के लिए नासूर बन जायेंगे : राजा सिंह

राजा सिंह
रोहिंग्या मुसलमान मूल रूप से बांग्लादेशी/बंगाली
मुसलमान है

जिन्हे अंग्रेज मजदुर बनाकर बर्मा यानि म्यांमार में लेकर गए थे,
1735 तक 1 भी मुसलमान बर्मा में नहीं था
1735 में अंग्रेज मुसलमानो को बर्मा लेकर गए थे
ये मूल रूप से बर्मा के अराकान प्रदेश में बस गए, और 1920 तक
आते आते इनकी संख्या 45% हो गयी
एक बार संख्या अधिक हुई, तो रोहिंग्या मुसलमानो ने अरकान को पहले
पूर्वी पाकिस्तान में मिलाने की कोशिश
की, असफल रहे तो बौद्धों का कत्लेआम करना शुरू कर
दिया
ताकि अराकान को एक इस्लामिक देश बना सके
बौद्धों का इतना कत्लेआम किया गया की बौद्ध
भी शांति छोड़ने पर मजबूर हो गए, और जान बचाने के लिए
उन्होंने भी हथियार उठा लिया
अब ये रोहिंग्या मुसलमान भारत में घुसाए जा चुके है, और इन्होने
जनसँख्या जिहाद भी शुरू कर दिया है
हर एक रोहिंग्या महिला 10 से 12 बच्चे कर रही है
इनकी संख्या 2 सालों में 280% की रफ़्तार से
बढ़ी है, रोहिंग्या मुसलमान बेहद कट्टर होते है
और ये अन्य धर्म के लोगों के समस्या खड़ी कर देते है,
जैसा इन्होने म्यांमार में किया
हैदराबाद से बीजेपी विधायक टाइगर राजा सिंह ने
भी इन रोहिंग्यों को जल्द भारत से बाहर करने
की मांग करी है, राजा सिंह ने बाकायदा एक
वीडियो सन्देश भी जारी किया है
राजा सिंह ने कहा है की, रोहिंग्या मुसलमान जब बौद्धों के
साथ भी नहीं रह सके तो हिन्दुओ के साथ
कैसे रह लेंगे, अगर इनको जल्द बाहर नहीं किया गया तो
ये आने वाले समय में भारत देश के लिए बड़ी
मुसीबत बन जायेंगे !