Friday, 19 January 2018

देश के अंदर 12 लाख संत हैं. ऐसे आश्रम हैं जिनके पास क्षमता है, उनकी जिम्मेदारी है कि वो भी गो वंश की संरक्षण और संवर्धन में जुटें.

गाय-गंगा और मंदिर पर संतों से बोले योगी- धैर्य रखिए सब काम हो रहे हैं

संगम नगरी में वीएचपी के संत सम्मेलन में सीएम योगी आदित्यनाथ पहुंचे. यहां उन्होंने गाय-गंगा और मंदिर के पर बोलते हुए कहा, 'सब काम हो रहे हैं धैर्य रखिए. पीएम मोदी जी के कार्यकाल में बिना मांगे सभी बड़े काम हो रहे हैं. इसलिए हमें धैर्य रखना चाहिए कि सभी बड़े काम होंगे, जो संत समाज चाहता है.'
योगी ने आगे कहा, 'हमारे आते ही बूचड़खाने बंद हुए, पशु तस्करी रोकी गई. देश के अंदर 12 लाख संत हैं. ऐसे आश्रम हैं जिनके पास क्षमता है, उनकी जिम्मेदारी है कि वो भी गो वंश की संरक्षण और संवर्धन में जुटें. सरकार भी अपने स्तर से कोशिश कर रही है. लेकिन गो वंश की रक्षा समाज आधारित व्यवस्था होनी चाहिए.'
योगी ने कहा , 'कुंभ की व्यवस्था के लिए संतों का मार्गदर्शक मंडल बनेगा. पहली बार कोई प्रधानमंत्री गंगा के लिए इतना सोच रहा है. गंगा की निर्मलता और अविरलता के लिए काम हो रहा है.'
उन्होंने कहा, 'आजादी के बाद पहली बार जातिवाद और सांप्रदायिक ताकतें सर उठा रही हैं. इससे लड़ना होगा. हर गांव में 1-2 संत रहते हैं, उनकी जिम्मेदारी है कि विभाजनकारी ताकतों को रोकें. हमारी सरकार संतों के आदेश का अक्षरसह पालन करेगी.'  
योगी ने कहा, 'इजरायल के पीएम आए थे. मैंने देखा कि भारत के प्रति उनके मन में कितना सम्मान है.'