Thursday, 18 January 2018

आजकल शराब पीने का नया ट्रेंड चल रहा है। तमाम बार ऐसे हैं जहां तांबे के बर्तन में कॉकटेल परोसते हैं।

तांबे के बर्तन में शराब पीने के नुकसान

तांबे के मग

आजकल शराब पीने का नया ट्रेंड चल रहा है। तमाम बार ऐसे हैं जहां तांबे के बर्तन में कॉकटेल परोसते हैं। हालांकि इसमें सबसे ज्‍यादा मॉस्‍को म्‍यूल सर्व किया जा रहा है और लोग शान से इस मग में कॉकटेल का भरपूर मज़ा ले रहे हैं।

फूड प्‍वाइजनिंग

लेकिन उन्‍हें इस बात का अंदाजा नही है कि इस मग में अल्‍कोहल या कॉकटेल पीना फूड प्‍वाइजनिंग को दावत दे रहा है। जी हां तांबे के मग में शराब से पेट में खराबी हो सकती है। यहां त‍क कि यह जानलेवा भी हो सकता है।

द फूड एंड ड्रग्‍स ए‍डमिनिस्‍ट्रेशन

द फूड एंड ड्रग्‍स ए‍डमिनिस्‍ट्रेशन के अनुसार, जिन खाने-पीने की चीज़ों का पीएच मान 6 से कम है, उन्हें तांबे के बर्तनों में कभी नहीं खाना चाहिए। मॉस्‍को म्‍यूल जैसे कई दूसरे कॉकटेल ऐसे हैं जिनका पीएच मान 6 से कम होता है। इन खतरों के चलते अमेरिका के कई राज्यों में कॉपर मग से होने वाले नुकसान से लोगों को आगाह करना शुरू कर दिया है।

कॉकटेल

हालांकि अगर आप कॉपर मग में ही कॉकटेल का लुत्फ़ उठाना चाहते हैं, तो ऐसे मग्‍स में ड्रिंक करें, जिन पर निकिल या स्टील की कोटिंग की गई हो। इससे फूड प्‍वाइजनिंग का खतरा नहीं होगा और आप तांबे के मग में कॉकटेल का पूरा आनंद उठा पाएंगे।