Tuesday, 13 February 2018

जिस तरह हिन्दू धर्म में दिन, समय और मुहूर्त का विशेष ध्यान रखा जाता है उसी तरह यह भी आवश्यक है कि विशेष फल प्राप्ति के लिए महाशिवरात्रि के दिन शुभ काल के दौरान ही महादेव और पार्वती की पूजा की जाए।

महाशिवरात्रि 2018: जानिए शिव पूजा का शुभ मुहूर्त

निशिथ काल पूजन: 24:09 से 25:01 (13 फरवरी)
चतुर्दशी तिथि आरंभ: 22:34 (13 फरवरी)

भगवान शिव ब्रह्मांड के रक्षक हैं और साथ ही साथ विनाशक भी। वह नकारातमकता और बुरी शक्तियों का विनाश कर उसके स्थान पर शुभता और पवित्रता की स्थापना करते हैं...उसके रक्षा करते हैं। वे समस्त बुराइयों का नाश करते हैं, वे तंत्र-मंत्र के जनक भी हैं।
वैसे तो सप्ताह का हर सोमवार देवाधिदेव भगवान शिव को समर्पित हैं लेकिन शिवरात्रि एक ऐसा अवसर है जब महादेव के भक्त उनकी पूरी श्रद्धा और तन्मयता के साथ पूजा करते हैं, उनके प्रति अपनी आस्था का प्रदर्शन करते हैं।
हिन्दू कैलेंडर के अनुसार प्रति माह शिवरात्रि का त्यौहार आता है, लेकिन फाल्गुन के महीने में आने वाली शिवरात्रि को महाशिवरात्रि के तौर पर बड़ी धूमधाम के साथ मनाया जाता है।
इस माह यह पर्व 13 तारीख को है, जाहिर तौर पर सभी शिव मंदिरों में इस शिवोत्सव की तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। शिव भक्त भी इस दिन को लेकर अति उत्साहित रहते हैं, क्योंकि इस दिन वह अपने अराध्य देव को प्रसन्न कर उनसे मनचाही मुराद मांग सकते हैं।
जिस तरह हिन्दू धर्म में दिन, समय और मुहूर्त का विशेष ध्यान रखा जाता है उसी तरह यह भी आवश्यक है कि विशेष फल प्राप्ति के लिए महाशिवरात्रि के दिन शुभ काल के दौरान ही महादेव और पार्वती की पूजा की जाए।