Saturday, 14 April 2018

ATITHI DEVO BHAVA HIMACHAL PRADESH

15 अप्रैल - देवभूमि हिमांचल प्रदेश की स्थापना दिवस की समस्त राष्ट्रप्रेमियों को हार्दिक शुभकामनाएं. जानिए हिमांचल के बारे में वो सच जो यकीनन आप नहीं जानते होंगे
निश्चित रूप से ये हर्ष और उल्लास का विषय है कि आज अर्थात 15 अप्रैल को देवभूमि माने जाने वाले और भारत मे देवी माँ के प्रमुख शक्तिपीठो के वास स्थल हिमाचल प्रदेश का स्थापना दिवस है। भारत के लाखों बलिदानियों के बलिदान के बाद आज ही के दिन अर्थात 15 अप्रैल सन 1948 को 28 पहाड़ी रियासतों को एकीकृत करते हुए आपस मिलाकर नया प्रांत बनाया गया था जिसे हिमांचल प्रदेश कहा गया .. न सिर्फ प्राकृतिक सौंदर्य और लोगों की सादगी अपितु वैदिक व पौराणिक पावन इतिहास समेटे हिमांचल प्रदेश में कई ऐसी बातें भी हैं, जिनकी वजह से हिमाचल पूरे देश में सबसे आगे है। इनमें से बहुत सी बातें प्रदेश की अच्छी राजनीति की वजह से संभव हो पाई है और उसका श्रेय भी प्रदेश की जनता और वहां का प्रशासन सम्भाल रहे कर्मवीरों को जाता है।


बीच मे कुछ मुद्दे आये जिसके चलते इस पावन प्रदेश की छवि को धूमिल करने के कुत्सित प्रयास हुए जिसका ज्यादातर दोष उस राजनीति को दिया जा सकता है जो मात्र वोट व सत्ता के लिए कुछ भी कर सकती है। बहरहाल, आज जानते हैं कि हिमाचल प्रदेश के बारे में कुछ ऐसी बातें, जो आपको ही नहीं बल्कि प्रत्येक भारतवंशी को हर हाल में मालूम होनी चाहिए।