Saturday, 23 June 2018

जानिए कौन हैं वो कश्मीर के 21 कलंक जिनके सर पर नाच रही है मौत ??

हिंदुस्तान का मणिमुकुट कहे जाने वाले कश्मीर की पावन भूमि को लहूलुहान करने वाले इस्लामिक आतंकियों के खिलाफ भारतीय सेना आख़िरी वार को तैयार है.
जम्मू-कश्मीर में राज्यपाल शासन लगने के बाद भारतीय सेना आक्रामक मूड में तथा आतंकियों के सफाये के लिए प्रतिबद्ध है. अब जो खबर सामने आ रही है वो न सिर्फ आतंकी बल्कि इन आतंकियों के समर्थकों पर कहर बनकर गिरने वाली है. खबर के मुताबिक, कश्मीर में आपरेशन ऑल आउट के दूसरे चरण में सुरक्षाबलों निशाने पर 21 मोस्ट वांटेड आतंकी हैं. इनमें तीन पाकिस्तानी आतंकी भी शामिल हैं.सुरक्षाबलों ने इनके सफाये के लिए पूरा एक्शन प्लान तैयार कर लिया है. हाल में तैयार की गई इस सूची में कुल 22 आतंकी शामिल थेजिनमें से एक आतंकी दाऊद अहमद सोफी को सुरक्षा बलों ने शुक्रवार को मार गिराया है। यह आईएसजेके संगठन से जुड़ा था.आतंकियों की इस लिस्ट के बारे में जानकारी मिली हैं कि सुरक्षाबलों की इस सूची में शामिल मोस्ट वांटेड आतंकियों में सबसे ज्यादा 11 हिजबुल मुजाहिदीन के हैं. इनमें मोहम्मद अशरफ खानर्फ अशरफ मौलवी मूलत अनंतनाग का निवासी है तथा सितंबर 2016 में हिजबुल में भर्ती हुआ था. वह ए प्लस श्रेणी का आतंकी है. जबकि अल्ताफ मोहम्मद डार उर्फ अल्ताफ काचरू कुलगाम निवासी है तथा ए डबल प्लस श्रेणी का आतंकी है.वह 2006 से सक्रिय है तथा दक्षिण कश्मीर में हिजबुल का डिविजन कमांडर भी है. इसी प्रकार कुलगाम का आतंकी मोहम्मद अब्बास शेख, ए प्लस आतंकी है तथा 2015 में भर्ती हुआ था. उमर माजिद गनाई ए डबल प्लस श्रेणी, सैफुल्ला मीर (ए श्रेणी), जीनत उल इस्लाम, ए डबल प्लस श्रेणी, रियाज अहमद निक्कू (ए++), लतीफ अहमद डार उर्फ हारुन (ए) तथा उमर फैयाज लोन (ए) शामिल हैं. इन आतंकियों में मन्नान वाणी भी है जो अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय (एएमयू) का शोधकर्ता रह चुका है. कुपवाड़ा निवासी मनन इसी साल जनवरी में आतंकी संगठन में भर्ती हुआ था तथा वह बी श्रेणी का आतंकी है. जुनैद अशरफ बी श्रेणी का आतंकी है तथा वह तहरीक ए हुर्रियत के चैयरमैन का बेटा है. इसी साल मार्च में वह आतंकी बना था.सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि इसके अलावा सूची में लश्कर ए तैय्यबा के कुल सात आतंकी शामिल हैं. इनमें अबु मुस्लिम पाकिस्तान से आया आतंकी है. उसे ए प्लस श्रेणी में रखा गया है तथा 2017 से वह घाटी में सक्रिय है. पाकिस्तान का दूसरा आतंकी अबु जरगाम उर्फ मोहम्मद भाई भी है. जो2015 से सक्रिय है तथा ए प्लस श्रेणी का आतंकी है. तीसरा पाकिस्तान आतंकी मोहम्मद नावेद (ए प्लस) है जो 2012 से सक्रिय है. लश्कर के अन्य आतंकियों में आजाद अहमद मलिक उर्फ दादा (ए), शकूर अहमद डार (ए प्लस), रियाज अहमद डार (ए) तथा शोपियां निवासी मुस्ताक अहमद मीर (ए डबल प्लस) शामिल हैं. इस लिस्ट में जैश ए मोहम्मद के दो आतंकी शामिल हैं. इनमें जाहिद अहमद वाणी तथा मुदासिर अहमद खान हैं. वाणी पुलवामा एवं मुदासिर अवन्तीपुर का निवासी है. पिछले एक सालों से ये सक्रिय हैं. एक अन्य आतंकी अंसार गजावत उल हिन्द (एजीएच) का है जिसका नाम जाकिर राशिद भट उर्फ जाकिर मूसा है. यह ए ++ श्रेणी का है तथा 2013 से सक्रिय है. सेना ने साफ़ कर दिया है सेना की पहली वरीयता में ये आतंकी शामिल हैं जिन्हें जल्द ही जहन्नुम पहुंचा दिया